Tagged: Dilip Kumar

0

नाम में क्या रखा है : दिलीप कुमार के बहाने

हिंदुस्तानी सिनेमा की जो धर्मनिरपेक्षता और साझा संस्कृति की परंपरा रही है, दिलीप कुमार उसी परंपरा के महान आइकन हैं क्योंकि वे जितने दिलीप कुमार हैं, उतने ही यूसुफ खान भी हैं। वे जितने देवदास हैं, उतने ही शहज़ादा सलीम भी हैं, जितने मुंबई के हैं, उतने ही पेशावर के भी हैं और जितने उर्दू के हैं, उतने ही हिंदी के हैं

0

दिलीप कुमार : प्रेम और पीड़ा का मोहक मायालोक रचने वाला अप्रतिम कलाकार

नब्ज़ जांच लेना साहेब की दफ़नाने से पहले       कलाकार उम्दा है, कहीं किरदार में न हो….. कहने में रटी-रटाई सी बात लगती है लेकिन दिलीप कुमार का जाना सचमुच एक युग का अंत है।...