Tagged: Dilip Kumar

धरती को आकाश पुकारे: शरद दत्त का महाप्रयाण

प्रसिद्ध शायर-गीतकार साहिर लुधियानवी पर उन्होंने दो माह पूर्व ही पुस्तक लेखन का कार्य सम्पन्न किया था। इस बारे में बात करते हुए उन्होंने मुझे कहा था कि साहिर पर पुस्तक पूरी हो गयी है और मुझे अपने भीतर जिस संतुष्टि की अनुभूति हो रही है उससे मैं बड़ा आनन्दित हूँ। एक लेखक जब अपनी किसी कृति को लेकर इस प्रकार सन्तोष का अनुभव कर रहा हो तो उसके इस कार्य की गुणवत्ता को सहज ही समझा जा सकता है। शरद दत्त के निधन के पश्चात् यह पुस्तक प्रकाशित होगी इसका भान तब किसे था?

दिलीप कुमार: सालगिरह पर साहिब-ए-आलम की याद

आज दिलीप कुमार ज़िंदा होते तो 99 साल के होते…. 11 दिसंबर 1922 को पेशावर में वो पैदा हुए थे… और इसी साल जुलाई में वो दुनिया को अलविदा कर गए…। इस मौके पर...

नाम में क्या रखा है : दिलीप कुमार के बहाने

हिंदुस्तानी सिनेमा की जो धर्मनिरपेक्षता और साझा संस्कृति की परंपरा रही है, दिलीप कुमार उसी परंपरा के महान आइकन हैं क्योंकि वे जितने दिलीप कुमार हैं, उतने ही यूसुफ खान भी हैं। वे जितने देवदास हैं, उतने ही शहज़ादा सलीम भी हैं, जितने मुंबई के हैं, उतने ही पेशावर के भी हैं और जितने उर्दू के हैं, उतने ही हिंदी के हैं

दिलीप कुमार : प्रेम और पीड़ा का मोहक मायालोक रचने वाला अप्रतिम कलाकार

नब्ज़ जांच लेना साहेब की दफ़नाने से पहले       कलाकार उम्दा है, कहीं किरदार में न हो….. कहने में रटी-रटाई सी बात लगती है लेकिन दिलीप कुमार का जाना सचमुच एक युग का अंत है।...

Dastangoi The Art

Alvida Dilip Sa’b

An obituary that consists gems of tweets on Dilip Kumar Sahab as a tribute by Dastangoi The Art.