Tagged: Vicky Kaushal

Review of Sardar Udham 0

‘माफ़ी’ और ‘वीर’ पर बहस के बीच एक क्रांतिकारी की कहानी

शूजीत सरकार और विकी कौशल की मेहनत की बदौलत यह फिल्म बायो-पिक कैटेगरी में ख़ास दर्जा हासिल करने की काबिलियत रखती है।

मसान क्यों अलग थी... 0

साला ये दुःख काहे ख़तम नहीं होता है… : मसान के 5 साल

सिनेमा का यही मज़ा है और यही विस्मय और विडम्बना भी की एक छोर पर बाहुबली और बजरंगी भाईजान हैं तो दूसरी तरफ मसान.